Thursday, 9/6/2016 | 5:05 UTC+0

दिल्ली में चार रोज़ा इल्मी तरबियती वर्कशॉप

अकेडमी ने जामेअतुल इमाम मुहम्मद बिन सऊद अल-इस्लामिया रियाज़ के एक जै़ली इदारा मर्कज़ अल-तमय्यूज़ अल-बहसी फ़ील क़ज़ाया अल-मुआसिरा के तआवून व इश्तिराक से चार रोज़ा तरबियती वर्कशॉप दिल्ली में मुन्अकि़द किया जिसमें 60 से ज़्यादा दीनी मदारिस के नौजवान उलेमा शरीक हुए।
इस वर्कशॉप में सऊद यूनिवर्सिटी के चार असातिज़ा ने नए अन्दाज़ और मनहज से मुहाजि़रात पेश किए और मशक़ें कराईं। इस वर्कशॉप की ख़ुसूसियत यह थी कि इसमें तमाम शुरका ने लैपटॉप का इस्तेमाल किया और बराहे-रास्त नेट कनेक्शन के ज़रिए मुख़तलिफ़ वेबसाइट से मालूमात हासिल करने के तरीके़ सिखें।

वर्कशॉप में हस्बे ज़ैल मौजूआत पर लेकचर हुए।

1-इल्मी तहक़ीक़ात में मनहज व तरीक़ा-ए-कार की अहमियत और उसकी कि़स्में।
2-जदीद मसाइल में तहक़ीक़ व बहस की असासियत।
3-इंटरनेट के ज़रिए सहीह मालूमात हासिल करने की फ़न्नी महारत।
4-जदीद मसाइल से मुताल्लिक़ किताबों, मुजल्लात और लिट्रेचर से मुताल्लिक़ मालूमात के हुसूल की तकनीक।
5-तहक़ीक़ व मुताला की मनसूबाबन्दी और तरीक़-ए-कार की तरतीब।
6-इन्टरनेट से मुताल्लिक़ फ़न्नी बहसें।
7-जदीद मसाइल पर तहक़ीक़ का मनहज और उसके मुताला का तरीक़ा।
8-अस्रे हाजि़र के मसाइल का मुताला व तजजि़या और फि़क़्हे इस्लामी का उस पर इन्तिबाक़।

इस वर्कशॉप में 7 अहम मौजूआत पर शुरका को किताबें भी दी गईं और उलूमे शरइया पर मुशतमिल किताबों की सी॰डी॰ नीज़ सरटीफि़केट भी पेश की गईं। प्रोग्राम की ज़बान अरबी रही।

इस वर्कशॉप में सऊद यूनिवर्सिटी के चार अहम असातिज़ा डॉ॰ अयाज़ सिलमी, डॉ॰ अब्दुल अज़ीज़ शिबली, डॉ॰ सालेह तय्यार और डॉ॰ फ़हद तुरकी के अलावा अकेडमी के नाइब सदर मौलाना बदरुल हसन क़ासमी, जनरल सेक्रेट्री मौलाना ख़ालिद सैफ़ुल्लाह रहमानी, सेक्रेट्री मौलाना अतीक़ अहमद बसतवी और मौलाना उबैदुल्लाह असअदी भी शरीक रहे। प्रोग्राम के इफ़तिताही इजलास में मुहतमिम दारुल उलूम नदवतुल उलेमा मौलाना सईदुर्रहमान आज़मी की भी शिरकत रही।
इस प्रोग्राम की ख़बरें अख़बारात में भी शाए हुईं। वाज़ेह रहे कि अकेडमी का मर्कज़ अल-तमय्युज़ अल-बहसी के साथ पहले से इल्मी मुआहिदा है जिसके तहत यह प्रोग्राम मुन्अकि़द हुआ।

Recent tweets

Bad Authentication data.. Please read document to config it correct.

About Us

Islamic Fiqh Academy (India) (IFA) was established in 1988 at New Delhi under the guidance and supervision of the great known Islamic Scholars.

Contact Us

Contact

Email:

Phone:

Fax:

Address: